Sequence Part-1

आज समय के अलग-अलग पड़ाव में घटनाएं काफी तेजी से घटित हो रही है

वर्तमान

दिल्ली

14 तारीख रात के 11 बजे

रात के अंधेरे में आज परमाणु बिना रुके दिल्ली के ऊपर उड़ रहा है ।

परमाणु – आज जरूर कुछ बुरा होने वाला है। जिसका एहसास मुझे सुबह से हो रहा है ।

तभी वह नीचे कुछ गुंडों को एक लड़की के पीछे भागता हुआ देखता है।

परमाणु – लड़की खतरे में लग रही है, मुझे उसे बचाना होगा ।

इतना कहकर परमाणु उस लड़की की ओर जाता है जिसने एक शॉर्ट से भी ज्यादा शॉर्ट जींस पैंट पहनी हुई है और एक बिना बाजू की शर्ट जो उसके पेट तक आकर खत्म हो जाती है । ऐसे में उन गुंडों का उस लड़की के पीछे पड़ना स्वाभाविक था लेकिन आज कारण कुछ और ही था ।

सारे गुंडे परमाणु को देखते ही अपना रास्ता बदलने की कोशिश करते हैं लेकिन परमाणु के होते हुए यह संभव नहीं और होता वही है जो हमेशा से दिल्ली में होता आ रहा है ।

परमाणु के हाथों गुंडों की धुलाई

लेकिन यह क्या जैसे ही गुंडों से निपटने के बाद परमाणु पीछे पलटा

लड़की गायब

“यह लड़की कहां गई ” परमाणु ने कहा,

तभी एक गुंडा दबी हुई आवाज में बोला , ” यह तुमने ठीक नहीं किया परमाणु ,अब इस दिल्ली को खत्म होने से कोई नहीं बचा सकता, तुम भी नहीं”

इतने में 2 किलोमीटर की दूरी पर एक तेज गड़गड़ाहट के साथ बिजली की चमक पैदा हूइ ।
चमक इतनी तेज थी कि कुछ क्षण के लिए रात के अंधेरे में भी दिन का माहौल सा बन गया ।

परमाणु पीछे पलटा और आसमान की तरफ उस जगह को देखने लगा जहां पर चमक पैदा हुई थी

” लगता है कुछ बड़ा होने वाला है, मुझे उसके पास जाकर देखना होगा कि हुआ क्या है “
और परमाणु उड़कर तेजी से चमक की ओर जाता है

……

भूतकाल की घटना

एक अज्ञात दुनिया

एक घने जंगल में प्रभात आज काफी खुश दिखाई दे रहा है । खुशी के मारे वह अपने दिव्य परसे को कभी अपने हाथों में प्रकट करता, तो कभी गायब, लेकिन यह खुशी ज्यादा देर तक नहीं रही

और डायनासोर्स के आकार जितने बड़े भेंसे की जबरदस्त टक्कर से टूट गई । टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि प्रभात सीधे जंगल के बाहर आ गिरा।

प्रभात – इसकी तो खैर नहीं…

प्रभात ने अपना दिव्य शक्तिशाली फरसा प्रकट किया और उसे उस दिशा में दे मारा जिस दिशा से उसे टक्कर पड़ी थी । कुछ ही देर में फरसा वापस प्रभात के हाथ में आ गया ।

प्रभात – अब यह तो मुझसे फिर नहीं भिड़ेगा ।

इतने में ठीक उसके सामने एक तेज गड़गड़ाहट के साथ बिजली की चमक पैदा होती है और यह चमक पिछली चमक से भी ज्यादा शक्तिशाली थी और इसकी आवाज भी ।

प्रभात – यह क्या है , जो भी है कुछ ठीक नहीं लग रहा । मुझे इसके पास जाकर देखना चाहिए ।

वर्तमान 14 तारीख

रेगिस्तान में एक अज्ञात स्थान

समय रात के 2 बजे

तेज धूल भरी आंधियां चल रही है । अंधेरे की वजह से वैसे ही कुछ दिखाई नहीं दे रहा और धूल भरी आंधी ने torch की रोशनी को भी अयोग्य बना दिया है ।

सार्थक- तुम्हें पक्का यकीन है कि यही वह जगह है जहां लोगों ने वापस octohead को देखा ।

कीर्ति – हां लगता तो यही है ।

सार्थक – यह भी तो हो सकता है कि लोगों को बहम हुआ हो क्योंकि मुझे नहीं लगता इस तरह की आंधी में कुछ दिखता भी होगा ।

कीर्ति – नहीं, यह बहम नहीं हो सकता क्योंकि लोगों ने जिस अजीबोगरीब जानवर की बात की है वो octohead की तरफ ही इशारा कर रहे हैं ।

सार्थक – पर उसको तो समीर ने Dark Realam में बंद कर दिया था तो यह कैसे हो सकता है ।

कीर्ति – वह सब तो मैं नहीं जानती
क्या पता कोई गड़बड़ हो गई हो ।

सार्थक – अरे बचों सामने से कुछ आ रहा है ।

कीर्ति – कहां

इससे पहले कि दोनों कुछ समझ पाते वह चीज आकर दोनों से टकरा गई । इस टक्कर के कारण दोनों अलग-अलग जगह पर उड़ते हुए गिरे और बेहोश हो ।

दो दिन पहले की घटना

12 तारीख रात के 11 बजे

सागर समीर निकिता आज तीनों किसी अज्ञात से वैज्ञानिक लेब में बैठे हैं और एक बुड्ढा सा आदमी चिंतित मुद्रा में उनके सामने ही बैठा है ।

समीर – सागर तुम्हें क्या लगता है ये आदमी इस वक्त जिंदा भी है ।

सागर – समीर वह बहुत टेंशन में है और तुम्हें मजाक की सूझ रही है ।

समीर – तुम्हें क्या लगता है क्या हुआ होगा ।

सागर – पता नहीं ।

निकिता – अंकल जी हुआ क्या है …क्या आप कुछ बताएंगे ।

बूढ़ा आदमी – अनर्थ बहुत बड़ा अनर्थ

Dark Relam का दरवाजा फिर से खुलने वाला है ।

सागर समीर निकिता तीनों एक साथ – क्या

सागर – पर यह कैसे हो सकता है ।

निकिता – this is impossible

समीर – कौन है वो जो इसे खोलना चाहता है ।

बुड्ढा आदमी – पता नहीं क्योंकि इस बार Dark Realm का दरवाजा बाहर से नहीं बल्कि अंदर से खुलने वाला है ।

निकिता – नहीं किसी भी स्थिति में Dark Realm का दरवाजा अंदर से नहीं खुल सकता , ऐसा होना संभव नहीं ।

बुड्ढा आदमी – ऐसा हो सकता है ।

सागर – यह आप कैसे कह सकते हैं । आपको यह सब कैसे पता ???

बुड्ढा आदमी – यह बात जानने से ज्यादा आवश्यक बात ये है कि इस बात का पता लगाया जाए कि आखिर कौन है जो Dark Realm के दरवाजे को अंदर से खोलना चाहता है

समीर – अगर Dark Realam का दरवाजा अंदर से खुल गया तो उसमें कैद सभी…

निकिता – और अगर ऐसा हुआ तो सर्वनाश हो जाएगा । यह पूरी दुनिया खत्म हो जाएगी ।

समीर – नहीं , मैं ऐसा होने नहीं दूंगा और ऐसा मैं करूगां खुद Dark Realam में जाकर ।

सागर – वो बात तो ठीक है लेकिन सोचने वाली बात यह है कि तुम्हारे सिवा किसके पास इतनी क्षमता की कोई Dark Realam के दरवाजे को अन्दर से खोल दे ।

निकिता – हां क्योंकि बाहर से खुलने का कारण तो हमें मालूम है लेकिन अंदर से……
मुझे तो यह भी नहीं पता था कि ऐसा हो सकता है ।

समीर – इन सभी सवालों के जवाब तो Dark Realam में जाकर ही पता चलेंगे ।

भविष्य में इसी समय की एक और घटना

सन 2147

डॉक्टर डी अपनी स्पेसशिप में 2 लोगों के सामने

डॉक्टर डी – मेरे हाथ में इस वक्त 21वीं सदी के एक वैज्ञानिक डॉक्टर वायरस का बनाया हुआ यंत्र है जो कि अब जाकर एक्टिवेट हुआ है ।

पहला व्यक्ति – क्या यह हमारे लिए खतरनाक है ।

डॉक्टर डी -हमारे लिए ही नहीं बल्कि पूरे ब्रह्मांड के लिए ….यह यंत्र अगर इसी तरह चलता रहा तो पूरा ब्रह्मांड खत्म कर देगा ।

दूसरा व्यक्ति – अब हमें क्या करना होगा ।

डॉक्टर डी – भूतकाल में जा कर डॉ वायरस से मिलना होगा और उससे पूछना होगा कि इसे बंद कैसे किया जाए ।

पहला व्यक्ति – पर भूत काल में कोन जाएगा ।

डॉक्टर डी – रिवर्स

पहला व्यक्ति – क्या …! आपको पता है ना जब भी वह time traveling करता है , तब क्या होता है । सब कुछ ख़राब करके रख देता है ।

डॉक्टरी डी – फिलहाल हमारे पास इसके सिवाय और कोई रास्ता नहीं है, क्योंकि मैंने जो टाइम ट्रेवल के लिए यंत्र बनाया था वह काम नहीं कर रहा ।

पहला व्यक्ति – देख लीजिए आपको जो अच्छा लगे

पृथ्वी पर

सुबह का समय

रिवर्स अपने बिस्तर से उठते हुए

रिवर्स – हे भगवान ! उठा ले पड़ोसियों को ।

युगल – तुम्हारी यह मुराद कभी पूरी नहीं होगी क्योंकि हमारे पड़ोस में कोई नहीं रहता ।

इतने में फोन की घंटी बजी

रिवर्स – लो आ गई आफत जल्दी फोन उठाओ और मुझे बताओ कि अब मुझे आगे क्या करना है ।

युगल फोन पर बात करता है काफी देर बात करने के बाद

युगल – तुम्हें time traveling करनी है ।

रिवर्स – क्या..! पागल हो ! time traveling और वो भी मैं ,कभी भी नहीं ।

युगल – डॉक्टर डि स्पीकर पर है बात करो ।

डॉक्टर डी – इस वक्त पूरा ब्रह्मांड खतरे में है और इसे अब तुम ही बचा सकते हो वरना यह जल्द , बहुत जल्द खत्म होगा ।

रिवर्स – और मेरे interfear से और भी जल्दी खत्म होगा क्योंकि मेरे पास बड़ी शक्तियां तो है पर मेरे नियंत्रण में नहीं और जब भी मैं इसका उपयोग करता हूं सिवाय गड़बड़ के और कुछ नहीं होता ।

डॉक्टर डी – तुम्हें एक बार फिर से कोशिश करनी चाहिए । क्या तुम अपने पापा के लक्ष्य कदमों पर नहीं चलोगे ।

रिवर्स पापा का नाम सुनते ही भावुक हो गया ।

रिवर्स – ठीक है लेकिन यह मेरी आखिरी कोशिश होगी ।

पुनः वर्तमान में

13 तारीख की घटना

सागर – क्या तुम तैयार हो ।

समीर – हां

सागर – वैसे प्लेन क्या है ।

समीर – कुछ नहीं । ,मैं कुछ क्षण के लिए dark Realam का दरवाज़ा खोलूंगा और उसके बाद उसके अंदर के Dark World में चला जाऊंगा जहां पर उस शख्स को ढुूंढूंगा जो Dark Realam का दरवाजा खोलने की कोशिश कर रहा होगा और उसे खत्म कर दूंगा ।

सागर – ठीक है लेकिन डाक वर्ल्ड में अपना ध्यान रखना क्योंकि वहां पर तुम्हारा सामना ऐसे राक्षसों से भी होगा जिससे पहले हम मिल चुके हैं ।

समीर – तुम चिंता मत करो । एक बार तो वह मेरे हाथों से पिट चुके हैं एक बार फिर से पिट जाएंगे ।

ठीक है भाई मैं चलता हूं

इसी समय भविष्य में

रिवर्स – अच्छा , तो मुझे भूतकाल में जाना है और डॉक्टर से मिलना है और उसे उठाकर यहां पर लाना है ।

बहुत आसान

और भूतकाल में जाने के लिए मेरे पास है मेरी time analog की पावर जिसका मैं अब तक यूज़ करता आया हूं और जिस से अब तक गड़बड़ ही गड़बड़ हुई हैं । ऐसे में यह काफी मुश्किल है ।

युगल – तुम अपनी दूसरी पावर का यूज़ क्यों नहीं करते ,उससे भी तो time traveling होती है ।

रिवर्स – कौनसी Deep Dark Space की लेकिन मैं उसके बारे में ज्यादा नहीं जानता और आज तक मैंने कभी उसका इस्तेमाल भी नहीं किया

युगल – तो अब कर लो ना ।

रिवर्स – नहीं यार यह बहुत ज्यादा बड़ी पावर है ऐसे में कोई गड़बड़ हुई तो वह भी बड़ी होगी ।

युगल – अरे यार इसमें कौन सी गड़बड़ तुम्हें Power Use करनी है dark space में जाना है और वहां से उस जगह पर जहां पर डाक्टर वायरस है बस so eassy ।

रिवर्स कुछ सोचने लगता है ।

रिवर्स – time analog power से समय धारा बदल सकती है पर Deep Dark Space से ऐसा नहीं होगा । पर समस्या हे उस जगह को ढूंढने की जहां से डॉक्टर वायरस के पास जाया जा सके तो वह अपने 75,000 प्रतिरूप वाली पावर से कर ही लूंगा । Dark space का Dark World इतना बड़ा भी नहीं कि वहां पर कोई चीज ढुढने से ना मिले ।

हां यह सही है ……मैं Dark Space के रास्ते से ही भूतकाल में जाऊंगा । यह Safe भी है और इससे में कोई गड़बड़ भी नहीं करूंगा । पर Dark Space बड़ा बहुत है और उसके अंदर हजारों दरवाजे हैं ,सारे खोल खोल कर चेक करने पड़ेंगे ।पर इट्स ओके ….मैं कर लूंगा बिकॉज …..मैं लाखों में हूं ।

युगल – लाखों में कहां हो ..तुम तो 75 हजार ही हो ।

रिवर्स – छोड़ो मैं चलता हूं मुझे खाली जगह चाहिए ।

रिवर्स अपने घर की छत पर जाता है और dark स्पेस की पावर का उपयोग करता है । देखते ही देखते चारों ओर अंधेरा छा जाता है और एक तेज रोशनी के साथ रिवर्स गायब हो जाता है ।

युगल – चलो अब तो कोई गड़बड़ नहीं होगी ।

तारीख 14 आज का दिन

समय सुबह के 11:00 बजे

Dark Realam में

समीर अब Dark Realam की दुनिया में था जो एक वीरान सी दुनिया थी । चारों ओर के दृश्य में एक तरफ विशाल पुराने खंडहर थे तो एक तरफ घना अंधेरा जंगल । वहीं दूसरी और एक रेगिस्तान जो की अंधकार भरा था । दूर-दूर का दृश्य देखने के लिए रोशनी अपर्याप्त थी लेकिन पास के दृश्य आसानी से दिखाई दे रहे थे ।

समीर – Dark Realam से बाहर निकलने का रास्ता इस ओर है और उस तरफ Dark Space में जाने का रास्ता । वह शख्स जो भी है शायद उस ओर से ही इस तरफ आएगा क्योंकि यहां आस-पास मुझे कोई भी नहीं दिख रहा , ना ही किसी के यहां होने का एहसास हो रहा है । जिन जिन लोगों को यहां पर कैद किया गया है वह भी पता नहीं कहां पर है । शायद मुझे अब Dark Space की ओर जाना चाहिए ।

रिवर्स ( Dark Space में ) – O-M-G ये मैं कहां आ गया , अबे मेंरी Team में कोई Guider है क्या जो मुझे Guide करे ।

तभी रिवर्स का एक प्रतिरूप बाहर निकलता है ।

रिवर्स प्रतिरूप – शायद मैं कुछ मदद कर दूं ।

रिवर्स – देखो यार कुछ । मुझे तो कुछ समझ में ही नहीं आ रहा ।

रिवर्स प्रतिरूप – ठीक है । मैं उधर देख कर आता हूं ।

रिवर्स अभी आगे बढ़ा ही था कि उसकी मुलाकात Dark space में घूम रहे रक्तबीज से हो गई ।

रिवर्स – सुनिए भाई साहब …..! आप यहीं रहते हैं क्या आप बता सकते हैं यहां से बाहर निकलने का रास्ता किस ओर है ।

रक्तबीज – क्या तुम मेरा मजाक उड़ा रही हो

और इतना कहकर एक जबरदस्त गुस्सा रिवर्स को दे मारा

रिवर्स – ( दर्द से करहाते हुए ) क्या मैंने पूछ कर कुछ गलत किया ।

रक्तबीज – गलत …बहुत गलत…. क्योंकि यह पूछ कर तुमने अपनी मौत को दावत दी है ।

रिवर्स – मौत ! अब यह क्या मजाक है । तुम बिना मतलब ही किसी को मार दोगे ।

तभी एक और जबरदस्त गुस्सा आकर रिवर्स को पड़ा जिससे रिवर्स फिर से दूर जा गिरा ।

रिवर्स – चलो भाइयों लगता है ये ऐसे नहीं मानेगा । वक्त आ गया है रिवर्स एक्शन दिखाने का ।

इतना कहकर वह 12-14 प्रतिरूपो में बदल गया और super speed से रक्तबीज पर जा टूटा ।

चारों तरफ के हमले और सुपर स्पीड के कारण रक्तबीज को संभलने का मौका ही नहीं मिला और कुछ ही क्षणों में रिवर्स ने रक्तबीज की जबरदस्त धुलाई कर दी लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ क्योंकि कुछ ही देर में रक्तबीज संभल गया और वह भी अपने ओर रूपों में बदल गया जिसने रिवर्स के सभी प्रतिरुपो को जबरदस्त घुस्से दे मारे ।

रक्तबीज का गुस्सा चरम सीमा पर था ।

रिवर्स – शायद मैं इस से लड़ कर अपना समय व्यर्थ कर रहा हूं । यह तो पूरी तरह से पागल हो चुका है पर मुझे पागल नहीं होना चाहिए । अभी तो यहां से जाने में ही भलाई है इसे बाद में देखूंगा ।

तभी रिवर्स का प्रतिरूप जो रास्ता देखने गया था वापिस आ गया ।

रिवर्स प्रतिरूप – मुझे रास्ता मिल गया । जहां पर हमें जाना है वह दरवाजा Dark Realam से होकर जाता है । चलो आ जाओ ।

और इसी के साथ रिवर्स Dark Realam की ओर चल दिया और वही समीर Dark Space में आ गया लेकिन दोनों का कहीं भी आमना-सामना नहीं हुआ क्योंकि कहने को इन्हें दरवाजा कहते हैं लेकिन यह आम दरवाजों की तरह नहीं थे ।

समीर Dark Space में आ जा चुका था जहां उसका सामना रिवर्स द्वारा गुस्साए रक्तबीज से हो गया ।

समीर – तुम , o shit ।

रक्तबीज – आखिर तुम्हारी मौत ले ही आई तुम्हें यहां ।

समीर – इसके साथ-साथ इसके रकत से बने राक्षस भी इसके साथ हैं ।

रक्तबीज – लगता है आज मेरे हाथों से किसी एक की मौत लिखी हैं । वो नहीं तो तुम ही सही ।

समीर – वो , वो कौन , कहीं ये वही शख्स तो नहीं । मुझे उसे रोकना होगा पर उससे पहले मुझे एक बार फिर से रक्तबीज से भिड़ना होगा ।

इतना कहकर समीर के शरीर से एक तेज रोशनी निकलती है और देखते ही देखते समीर बिजली की गति से रक्तबीज पर टूट पड़ता है । लेकिन यह क्या ! रक्तबीज ने उसे अपने हाथों में जकड़ लिया ।

रक्तबीज – तुमसे पहले मेरा जिससे सामना हुआ था वह दिव्य शक्तियों में सम्मिलित नहीं था लेकिन तुम दिव्य सकती हो और दिव्य शक्ति इस काली दुनिया में कमजोर पड़ जाती है और इतना कहकर समीर को घुमा कर फेकता है ।

समीर – यह बात मेरे दिमाग में क्यों नहीं आई । यहां पर इससेे निपटना मुश्किल है ,लगता है इसे एक बार बाहरी दुनिया में लेकर जाना पड़ेगा लेकिन मैं इसे अपनी दुनिया में नहीं लेकर जा सकता । इसे किसी और दुनिया में या किसी और समय चक्कर में ले कर जाना होगा । मैं इसे भूतकाल में ले चलता हूं

और इसी के साथ समीर कुछ मंत्र याद करता है और उनको बोलते हुए रक्तबीज पर टूट पड़ता है और एक तेज रोशनी के साथ दोनों गायब हो जाते हैं और सीधे प्रकट होते हैं प्रभात के सामने ।
और वहीं दूसरी और रक्तबीज से सामना करने के बाद रिवर्स अब Dark Realam में घूम रहा है । जहां पर Octohead भी आराम फरमा रहा है

रिवर्स – अरे बाप रे यह क्या है । यह तो बहुत डरावना है ।

रिवर्स प्रतिरूप – इधर से , इधर से , हमें दाईं ओर से यहां से बाहर निकलना है ।

रिवर्स – आ रहा हूं ,आ रहा हूं , मुझे यहां से ध्यान से निकला होगा क्योंकि अगर गलती से मैंने इस पर पैर रख दिया तो यह जाग जाएगा और जागने के बाद मेरी क्या हालत करेगा यह मैं भी नहीं जानता ।

octohead से बचते बचाते रिवर्स और उसके प्रतिरूप उस जगह तक पहुंच जाते हैं जहां से उन्हें बाहर जाना है ।

रिवर्स प्रतिरूप – चलो ,अब यहां से चले ‌।

रिवर्स कुछ सोचता है और इसी के साथ Dark Realam का दरवाजा खुल जाता है ।
और octohead की नींद भी ।

Dark Realam का दरवाजा खुलने के बाद रिवर्स सीधे प्रकट होता है दिल्ली में उस जगह पर जहां पर परमाणु के सामने तेज बिजली चमकी थी ।

रिवर्स इस बात से अनजान है कि Dark Realam का दरवाजा खोलने के बाद उसे बंद भी करना होता है और इसी मौके का फायदा उठाकर octohead भी Dark Realam से बाहर आ जाता है और सीधे प्रकट हुआ रेगिस्तान के एक गांव में ।

Dark Realam के दरवाजे की एक खासियत यह भी थी कि अगर कोई उसे बंद ना करें तो कुछ समय बाद वह अपने आप बंद हो जाता है लेकिन यह थोड़ा सा समय काफी था कुछ और राक्षसों के लिए वहां से बाहर निकलने का और वह सब प्रकट हुए अंटार्टिका की बर्फीली पहाड़ियों में ।

दरवाजे को बंद होने में अभी भी कुछ क्षण बाकी थे की एक विशाल ताकतवर राक्षस भी Dark Realam से बाहर कूद पड़ा ।

जिसका नाम था

पाशा

धन्यवाद

Written By – Aman for Comic Haveli

Our social links :

website- www.comichaveli.com
Twitter-http://twitter.com/comichaveli
Instagram-http://instagram.com/comichaveli
Facebook-http://www.facebook.com/comichaveli
Pinterest-http://pinterest.com/comichaveli
subscribe- http://www.youtube.com/c/ComicHavelis

Disclaimer – These stories are written and published only for entertainment. comic haveli and writers had no intent to hurt feeling of any person , community or group. If you find anything which hurt you or should not be posted here please highlight to us so we can review it and take necessary action. comic haveli doesn’t want to violent any copyright and these contents are written and created by writers themselves. The content is as fan made dedications for comic industry. if any name , place or any details matches with anyone then it will be only a coincidence.

5 Comments on “Sequence Part-1”

  1. अरे बाप रे !!! भाई घुमा डाला आपने तो। मैं तो झबरा फैन हो गया रे । मतलब-क्या-लाते कहां से हैं इतना दिमाग आप। पूरी स्टोरी में इतना घुमाया । कसम से दुनिया सच मे गोल नज़र आने लगी मुझे। शुरुआत में आपने परमाणु को दिखाया। मुझे लगा ये परमाणु की ही सोलो स्टोरी होगी। लेकिन-धीरे धीरे और भी लोग आते चले गए। कॉमिक हवेली के कई किरदार इस स्टोरी में एक के बाद एक आते चले गए। जहाँ कुछ सुपर हीरोज़ जैसे » रिवर्स और समीर भी इस स्टोरी में देखने को मिले वहीं भयानक विलेन ऑक्टोहैड और रक्तबीज भी एकसाथ दिख गए। रिवर्स की रक्तबीज के साथ हुई लड़ाई में मजा आ गया। कुल मिलाकर मैं तो इतना समझ गया हूँ कि रिवर्स और समीर जल्द ही आपस मे भिड़ने वाले हैं। अब बस ये देखना है कि परमाणु का क्या रोल है इस स्टोरी में। धन्यवाद।

  2. gajab gol gol kahani hai… lekin ye prabhat kaun hai?
    aur kya kar sakta hai dekhna hai…
    parmanu ka role kya hai?
    aur wo comic haveli ki duniya me kaise aaya ye bhi janne ka bada man hai…
    sameer ke baare me kafi jan gye hain… wo kya krega majedar hoga…
    sarthak bhi aa gya hai waah maja doguna ho rha hai… aur to aur ab adwika bhi part banegi gajab … bahut shandar …

  3. Kya bhai itna मजेदार कहानी पढ़ के मजा आ गया, जब देखा कि आपने पुराने कहानी के superhero को भी इसमे लिया h to kya Kahna agar comic के रूप m होती तो और भी मजा aa जाता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.